Annual Art Exhibitions 2020

Dayanand College Ajmer

सूक्ष्म भावो को मूर्त रूप देना ही कला है ।  महाविद्यालय का  कला विभाग ही उसका हृदय स्थल होता है l यह भाव कला विद राम जैसवाल ने दो दिवसीय कला प्रदर्शनी के उद्घाटन अवसर पर व्यक्त किए। 
दयानंद महाविद्यालय के कला विभाग द्वारा वार्षिक कला प्रदर्शनी का उद्घाटन मंगलवार को प्रातः मुख्य अतिथि श्री राम जैसवाल एवं संभागीय संग्रहालय अधीक्षक नीरज त्रिपाठी के सानिध्य में हुआ l कॉलेज  उपप्राचार्य एमके सिंह ने अतिथियों के साथ दीप प्रज्वलित कर प्रदर्शनी का शुभारंभ किया l प्रदर्शनी में वर्ष पर्यंत विद्यार्थियों द्वारा तैयार किए गए चित्रों एवं पेंटिंग को प्रदर्शित किया गया l इस अवसर पर त्रिपाठी ने बच्चों को संबोधित करते हुए कहा जहांगीर काल में चित्रकला अपने चरम पर थी l अजमेर के राजकीय संग्रहालय में दीवारों पर 500 वर्ष पुरानी चित्रकला के अवशेष प्राप्त हो रहे हैं l शीघ्र ही उन पर रिसर्च की जाएगी l कला विभाग की व्याख्याता डॉ रितु शिल्पी ने प्रदर्शनी में प्रदर्शित चित्रों के कलाकारों से अतिथियों को मिलवाया एवं विद्यार्थियों के सत्रिय कार्य पेंटिंग के बारे में जानकारियां प्रदान की l कार्यक्रम में डॉ अनुपम भटनागर ने दयानंद महाविद्यालय के कला विभाग के इतिहास के बारे में विद्यार्थियों को जानकारी प्रदान की l कार्यक्रम के अंत में अतिथियों को स्मृति चिन्ह भेंट किए गए कार्यक्रम का संचालन संजय कुमार सेठी द्वारा किया गया l  कला विभाग के डॉ. शेर सिंह  व डॉ. अनीता शर्मा ने महाविद्यालय के विद्यार्थियों द्वारा वर्ष पर्यंत किए गए अचीवमेंट के बारे में जानकारी प्रदान की l राजेश बुंदेल व  नितिन ने सहयोग प्रदान किया l